Thursday, 23 March 2017

Government will Soon Introduce 5 Bills For Implementation Of GST

जीएसटी के लिए पेश होंगे पांच विधेयक, संसद के मौजूदा सत्र में ही सरकार लाएगी से सभी बिल

नई दिल्ली (जागरण ब्यूरो)। सरकार जल्द ही संसद के मौजूदा सत्र में ही वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के लिए जरूरी पांच विधेयक पेश करेगी। इन विधेयकों के पारित होने पर एक जुलाई, 2017 से देश में जीएसटी लागू होने का रास्ता साफ हो जाएगा। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को लोकसभा में वित्त विधेयक 2017 पर चर्चा का जवाब देते हुए यह घोषणा की। वित्त मंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि पैन के लिए 'आधार' नंबर अनिवार्य बनाने का कदम सरकार ने कर चोरी रोकने के इरादे से उठाया है। यह भी साफ कर दिया कि कृषि से आमदनी पर कोई आयकर नहीं लगाया गया है और न ही केंद्र को यह टैक्स लगाने का अधिकार है।
लोकसभा ने कांग्रेस, बीजू जनता दल और तृणमूल कांग्रेस सहित कई विपक्षी दलों के वाकआउट के बाद ध्वनिमत से वित्त विधेयक 2017 को पारित किया। सरकार ने इस विधेयक में 40 अधिकारिक संशोधन किए हैं। इनमें से पैन (परमानेंट अकाउंट नंबर) लेने और आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए आधार नंबर की अनिवार्यता संबंधी प्रावधान शामिल है।
जेटली ने कहा कि जीएसटी काउंसिल की अब तक 12 बैठकें हो चुकी हैं। काउंसिल ने सभी निर्णय सर्वसम्मति से किए हैं। पांच विधेयकों के मसौदों को काउंसिल ने मंजूरी दी है। इनमें से एक विधेयक राय विधानसभाओं से पारित होना है, जबकि चार संसद से पास होंगे। इसके अलावा सरकार केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क कानून में संशोधन के लिए भी एक विधेयक संसद में पेश करेगी। इस बिल की जरूरत इसलिए है क्योंकि जीएसटी लागू होने पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क समाप्त हो जाएगा। इसलिए उत्पाद व सीमा शुल्क कानून में संशोधन जरूरी है। कैबिनेट ने देर शाम इस विधेयक को मंजूरी दे दी।
कैबिनेट ने सोमवार को ही जीएसटी के लिए जरूरी चार विधेयकों के मसौदे को मंजूरी दी है। इनमें केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर (सीजीएसटी) विधेयक 2017, समन्वित वस्तु एवं सेवा कर (आइजीएसटी विधेयक) विधेयक, संघ शासित क्षेत्र वस्तु एवं सेवा कर (यूटीजीएसटी) विधेयक और वस्तु एवं सेवा कर (रायों को क्षतिपूर्ति) विधेयक 2017 का मसौदा शामिल है। एक अन्य विधेयक राय जीएसटी (एसजीएसटी) को रायों की विधानसभाओं से मंजूरी दी जानी है।
बीजू जनता दल के बी माहताब ने जब पैन के लिए आधार नंबर अनिवार्य बनाने संबंधी संशोधन पर सवाल उठाया तो जेटली ने कहा कि कई लोगों ने पांच-पांच पैन ले रखे हैं। बहुत से लोग कर चोरी करने को ऐसे तरीके अपनाते हैं। सरकार टैक्स चोरी बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी। आज 108 करोड़ लोगों के पास आधार नंबर है। इसकी तकनीकी से टैक्स फ्रॉड रोकने में मदद मिलेगी।
नकदी लेनदेन सीमा को सही ठहराया
वित्त मंत्री ने नकद लेनदेन की सीमा तीन लाख रुपये से घटाकर दो लाख रुपये करने संबंधी संशोधन प्रस्ताव को सही ठहराया। जेटली ने कहा कि इससे काले धन के सृजन पर अंकुश लगेगा। उन्होंने राजनीतिक चंदे में पारदर्शिता लाने के लिए प्रस्तावित चुनावी बॉण्ड स्कीम के संबंध में पार्टियों से सुझाव देने का आग्रह भी किया। नोटबंदी पर विपक्ष की आलोचनाओं को दरकिनार करते हुए जेटली ने कहा कि सरकार चालू वित्त वर्ष के लिए बजट में तय संशोधित अनुमानों के अनुरूप 17 लाख करोड़ रुपये का कर राजस्व एकत्र करेगी।
जीएसटी से सस्ती होंगी वस्तुएं
पहली जुलाई से जीएसटी लागू होने के बाद चीजों की कीमतों में कमी आएगी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को हुई कॉमनवेल्थ ऑडिटर जनरल कॉन्फ्रेंस में यह उम्मीद जताई। उन्होंने कहा कि जीएसटी की नई व्यवस्था में वस्तुएं और सेवाएं बेहद आसानी से ट्रांसफर हो सकेंगी। साथ सशक्त सूचना तकनीकी आधार के चलते कर चोरी बेहद मुश्किल हो जाएगी।


GST Ke Liye Pesh Honge Panch Vidheyak, Sansad maujooda Satra Me Hee Sarkaar Layegi Se Sabhi Bill br Naee Delhi Jagaran Beuro । Jald Vastu Aivam Sewa Kar Jaroori Karegi In Vidheyakon Parit Hone Par Ek July 2017 Desh Lagu Ka Rasta Saaf Ho Jayega Vitt Mantri Arun jetli ne Budhwar Ko Loksabha Charcha Jawab Dete Hue Yah Ghoshna Ki Bhi Spashta Kiya Pen Aadhaar Number Anivarya Banane Kadam Chori Rokne Irade Uthaya Hai Diya Krishi Aamdani Koi Aaykar Nahi Lagaya Gaya Aur n Kendra Tax Lagane Adhikar Congress Biju Public Dal TrinnMool Sahit Kai Vipakshi Dalon WalkOut Baad DhwaniMat Is 40 Adhikarik Sanshodhan Kiye Hain Inme Permanent account Lene return Dakhil Karne Aniwaryata Sambandhi Praavdhan Shamil Kahaa Council Ab Tak 12 Baithakein Chuki Decision Sarwsammati Masaudon Manjoori Dee Raay Vidhansabhaon Hona Jabki Char Paas Iske ALava Kendriya Utpaad Shulk Seema Kanoon Jarurat Isliye Kyonki Samapt Wa Cabinet Der Sham De Somwar Masaude CGST Samanvit IGST Sangh Shashit Shetra yutijiesti Raayon kshatipoorti Masauda Anya SGST Jani B Maahtaab Jab Sawal To Logon - Le Rakhe Bahut Log Aise Tarike Apnate Bilkul Bardasht Aaj 108 Crore Iski Technical Fraud Madad Milegi Nakdi Lenden Sahi Thahraya Nakad Teen Lakh Rupaye Ghatakar Do Prastav Isse Kaale Dhan Srijan Ankush Lagega Unhonne RajNeetik Chande Pardarshita Lane Prastavit Chunavi Bond Scheme Sambandh Parties Sujhav Dene Aagrah NoteBandi Vipaksh Aalochanaon DarKinar Karte Chalu Year Budget Tay Sanshodhit Anumanon Anuroop 17 Rajaswa Ekatra Sasti Hongi Vastuain Pehli Cheejon Keematon Kami Ayegi Hui Commonwealth Auditor General Conference Ummeed Jatai Vyavastha Sewayein Behad Asani Transfer Sakengi Sath Sashakt Suchna Chalte Mushkil Jayegi

No comments:

Post a comment