Sunday, 5 March 2017

Jharkhand E gras Portal News

फरवरी से मैनुअल चालान पर नहीं जमा होगा टैक्स, ई-ग्रास पोर्टल से होगा भुगतान

रांची।
झारखंड में फरवरी से मैनुअल चालान पर टैक्स जमा नहीं होगा। वित्त विभाग के ई-ग्रास पोर्टल से जनरेट इलेक्ट्रॉनिक चलान से ही टैक्स स्वीकार किया जाएगा। योजना सह वित्त विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित खरे ने सभी विभागों के सचिव, कोषागार और बैंकों के अधिकारियों को पत्र लिखकर ई-ग्रास पोर्टल से भुगतान सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। राज्य सरकार ने रेवेन्यू और टैक्स के ऑनलाइन भुगतान के लिए ई-ग्रास पोर्टल शुरू किया है, जिसका उद्देश्य करदाताओं को कभी और कहीं से भी भुगतान की सुविधा देना है। वैसे करदाता, जो नकद, चेक या ड्राफ्ट के माध्यम से बैंक से टैक्स का भुगतान करना चाहते हैं, उन्हें ई-ग्रास पोर्टल से इलेक्ट्रॉनिक चलान प्रिंट कर कोषागार से सत्यापित करना होगा।
ई-ग्रास पोर्टल पर ऑनलाइन भुगतान के लिए नेट-बैंकिंग की भी सुविधा उपलब्ध करायी गई है। पोर्टल में लॉग इन के बाद अपने पसंद के बैंक का चुनाव कर ऑनलाइन टैक्स का भुगतान कर सकते हैं। रांची के प्रोजेक्ट भवन सचिवालय स्थित साइबर कोषागार को ई-ग्रास के माध्यम से राजस्व संग्रह का दायित्व सौंपा है, जिससे वाणिज्य कर, परिवहन, निबंधन, खान, उत्पाद आदि विभाग जोड़े गए हैं। ई-ग्रास पोर्टल से टैक्स जमा करने की सुविधा एक जनवरी से शुरू की गई है। रांची के उपायुक्त को साइबर कोषागार में सहायता केंद्र खोलने को कहा गया।

February Se Manual Chalan Par Nahi Jama Hoga Tax, Ee - Gras portal Bhugtan Ranchi । Jharkhand Me Vitt Vibhag Ke Generate Electronic चलान Hee Sweekar Kiya Jayega Yojana Sah Upper Mukhya Sachiv Amit Khare ne Sabhi Vibhagon Koshagaar Aur Banks Adhikariyon Ko Patra LikhKar Sunishchit Karne Ka Nirdesh Diya Rajya Sarkaar Revenue Online Liye Shuru Hai Jiska Uddeshya KarDaataon Kabhi Kahin Bhi Ki Suvidha Dena Waise KarDaata Jo Nakad Chek Ya Draft Madhyam Bank Karna Chahte Hain Unhe Print Kar Satyapit Net Banking Uplabdh Karayi Gayi Log In Baad Apne Pasand Chunav Sakte Project Bhawan Sachiwalaya Sthit Cyber Rajaswa Sangrah Dayitva Saumpaa Jisse Vanijya Parivahan निबंधन Khan Utpaad Aadi Jode Gaye Ek January Upayukt Sahayta Kendra Kholne Kahaa Gaya

No comments:

Post a comment