Friday, 3 March 2017

Printing Of 2000 rupee Notes Started in August 2016

अगस्त 2016 में ही छपने लगे थे 2000 रुपये के नये नोट, RTI में हुआ खुलासा
नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड (बीआरबीएनएमपीएल-BRBNMPL) जो कि आरबीआई की एक सहायक इकाई है ने 2000 रुपए के नोटों की छपाई का काम केंद्र सरकार की ओर से लिए गए नोटबंदी के फैसले से ठीक 2 महीने पहले शुरू कर दिया था। यह खुलासा एक आरटीआई के जवाब के रूप में सामने आया है।
यह आरटीआई मध्यप्रदेश के नीमच जिले में रहने वाले चंद्रशेखर गौड़ नामक व्यक्ति ने दाखिल की थी। उन्होंने बताया कि उनकी आरटीआई में पूछे गए सवाल पर बीआरबीएनएमपीएल की ओर से भेजे गए जवाब में कहा गया है कि 2000 रुपए के नए नोटों की छपाई का काम 22 अगस्त 2016 से ही शुरु हो गया था। जबकि 500 रुपए के नए नोटों की छपाई का काम 23 नवंबर 2016 से शुरू हुआ।
इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि 500 रुपए के पुराने नोटों की छपाई का काम 27 अक्टूबर को रोक दिया गया था जबकि 1000 रुपए के पुराने नोट की छपाई का काम बीते साल 28 जुलाई को ही रोक दिया गया था।
गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने नोटबंदी का फैसला बीते साल 8 नवंबर को लिया था। इस फैसले के बाद ही बाजार में प्रचलित 86 फीसद करेंसी अमान्य हो गई थी जो 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों के रूप में थी। इसके बाद ही आरबीआई की ओर से 500 और 2000 रुपए के नए नोट जारी किए गए।


August 2016 Me Hee Chhapne Lage The 2000 Rupaye Ke Naye Note, RTI Hua Khulasa br Naee Delhi Indian Reserve Bank Mudrann Private Limited BRBNMPL - Jo Ki RBI Ek Sahayak Ikai Hai ne Noton Chhapai Ka Kaam Kendra Sarkaar Or Se Liye Gaye NoteBandi Faisle Theek 2 Mahine Pehle Shuru Kar Diya Tha । Yah Jawab Roop Samne Aaya MadhyaPradesh Nimach Jile Rehne Wale chandrashekhar Gaud Namak Vyakti Dakhil Thi Unhonne Bataya Unki Puchhe Sawal Par Bheje Kahaa Gaya 22 Ho Jabki 500 23 November Is Report Bhi Purane 27 October Ko Rok 1000 Beete Sal 28 July Gaurtalab Faisla 8 Liya Baad Bazar Prachalit 86 Feesad Currency Amany Gayi Aur Iske Jari Kiye

No comments:

Post a comment